छत्तीसगढ़ से ब्युरो रिपोर्ट रोशन कुमार सोनी

बिलासपुर। न्यायधानी बिलासपुर में पुलिस ने कैफे में दबिश देकर हुक्का पीते युवक—युवतियों को रंगे हाथों पकड़ा है। मुखबिर की सूचना पर पुलिस की टीम वेलहल्ला कैफे ईदगाह चौक के पास पहुंची। जहाँ वेलहल्ला कैफे के संचालक आकाश यादव एवं मैनेजर मनीष चेतानी, निशांत गुप्ता, अमर केवट, दुर्गेश कोरी, शंकर बोरकर के द्वारा बिना अनुमति के ग्राहकों को इकट्ठा कर तंबाकुयुक्त हुक्का पिलाया जा रहा था। मौक पर यश चावला, यश अग्रवाल,विनय कुमार, शुभम सिंह, सोहेब खान, भूपेन्द्र पटेल एवं दो लड़कियाँ रूपल पटेल, रश्मि यादव कैफे में हुक्का पिते हुए पाए गए। मौके से संचालक आकाश यादव पुलिस को देखकर फरार हो गया। कैफे के संचालक/ मैनेजर को हुक्का पिलाने के संबंध में दस्तावेज प्रस्तुत करने हेतु नोटिस जारी किया गया। जिस पर संचालक के द्वारा हुक्का पिलाने के संबंध में कोई अनुमति, लायसेंस एवं दस्तावेज नहीं होना बताया। संचालक के कब्जे से 3 नग हुक्का पॉट अलग अलग कलर के निकोटिन युक्त फ्लेवर 3 पैकेट 1 डिब्बा स्प्रिंग वॉटर 1 डब्बा पान सालसा कुल कीमती 20,500/- रूपए को जब्त किया गया। सभी 6 आरोपियों के विरूद्ध कोटपा एक्ट के तह कार्यवाही कर गिरफ्तार किया गया। हुक्का पीने वालों के परिजनों को बुलाकर समझाइस देकर छोड़ा गया।

Post a Comment

और नया पुराने
NEWS WEB SERVICES