छत्तीसगढ़ से ब्युरो रिपोर्ट रोशन कुमार सोनी

बिलासपुर। बीते दिनों बिलासपुर में कांग्रेस नेता के घर डकैतों ने हमला बोला था। दर्रीघाट निवासी टाकेश्वर पाटले के घर में 7 डकैतों ने उनके घर में घूसकर महिलाओ बच्चों एवं अन्य सदस्यों को बंधक बनाते हुए कट्टे एवं चाकू की नोक पर 2.50 लाख रूपये एवं सोने चांदी के आभूषण लूटकर फरार हो गए थे।

पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते जांच में जुट गई। बिलासपुर, जांजगीर, रायगढ़, उड़ीसा के 1000 से अधिक सीसीटीवी फुटेज देखने के बाद पुलिस ने 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि अन्य आरोपी अब भी फरार है। पुलिस ने 4 डकैतों से 5 मोबाइल, 1 पिस्टल, 1 कट्टा बरामद किया है। पुलिस की 10 से अधिक टीम प्रदेश एवं प्रदेश के बाहर लगातार सक्रीय रहते हुए आरोपियों को धर-दबोचने में कामयाब हुई।लागातर पुलिस की दबिश से डकैती के मास्टर माइंड रमजान सहित आयुब एवं माइकल वर्तमान तक पुलिस की पकड़ से बाहर है, जिन्हे एक टीम अभी तक पीछा कर रही है जिनके प्रयासों से इन्हें शीघ्र प्रकड़ कर सलाखों के पीछे भेजा जाएगा।

बदला लेने की नियत से जेल में बनाई थी योजना:

पकड़े गये दोनो आरोपीयों ने पूछताछ दौरान बाताया कि अजय ध्रूव पिता अमर सिंह ध्रुव जो कि घटनास्थल के समीप ग्राम लावर मस्तूरी का निवासी है जो कि 2017 में एक प्रकरण में अपने माता एवं पिता के साथ जेल में निरूद्ध रहा है ।आरोपी अजय ध्रूव को यह जानकारी प्राप्त थी कि जिस प्रकरण में उसे जेल भेजा गया है उसमें उसके विरुद्ध रिपोर्ट करने वाले व्यक्ति का मदद एवं उसे जेल में जाने में टाकेश्वर पाटले जो कि इस दर्रीघाट प्रकरण का प्रार्थी है के द्वारा उसे जानबूझकर योजना बनाकर कर जेल भेजवाया है इसलिए आरोपी अजय कुमार ध्रुव ने टाकेश्वर पाटले से बदला लेने की नीयत से एक योजना बनाई और योजना के लिए जब अजय ध्रूव जेल में निरुद्ध था उसी दौरान सरकंडा हत्या के प्रकरण में जेल में निरुद्ध रमजान उर्फ उर्फ बल्ला जोकि चिंगराजपारा का रहने वाला है के द्वारा जेल के अंदर ही उससे अच्छी दोस्ती कर प्रार्थी से बदला लेने की नीयत से एक योजना बनाई जब सभी जेल से बाहर आ गए तब रमजान उर्फ बल्ला के द्वारा अजय कुमार ध्रुव के साथ डकैती करने के लिए दिन एवं स्थान सुनिश्चित करने का आपस में समन्वय स्थापित कर योजना बनाएंइस दौरान दोनों की आपस में बातचीत हुई रमजान एवं डकैतों को घटना में शामिल करने के लिए रमजान उर्फ बल्ला ने रमजान चिल्हाटी को शामिल किया जो कि पूर्व में गतौरा डक़ैती में शामिल रहा है। मस्तूरी प्रकरण के आरोपी रमजान उर्फ बबलू एवं उसके उड़ीसा के साथियों को डकैती में शामिल किया जबकि अजय कुमार ध्रुव ने प्रार्थी के घर एवं उसके घर पर रहने ना रहने एवं परिवार के कितने लोग घर पर रहते हैं इसके संबंध में सभी जानकारी हासिल कर घटना कार्य करने का समय सुनिश्चित कर आरोपी को घटना कार्य करने के लिए योजना बना कर दिया आरोपी रमजान बल्ला के द्वारा डकैती करने के लिए अन्य लोगों के शामिल करने के लिए अन्य सदस्यों को जोड़ना प्रारंभ किया रमजान बल्ला के द्वारा अपने घर के बाजू रहने वाले पुस्तक दुकान में काम करने वाले अयूब पिता हनीफ ग्राम चिल्हाटी जो कि वर्तमान में उसके साथ चिंगराजपारा में उसके घर के बाजू निवास करता है को शामिल किया साथी गतौरा डकैती में वर्तमान में जेल से छुटे रमजान उर्फ़ बबलू को भी इस योजना में शामिल किया गया रमजान उर्फ बबलू उड़ीसा को मूलतः रहने वाला है के द्वारा उड़ीसा में अन्य मामलों में कुख्यात लोगों को इस प्रकरण में शामिल किया गया जोकि कई डकैती हत्या के प्रकरण में जेल जा चुके हैं इसके लिए बल्लु उर्फ रमजान के द्वारा उड़ीसा जाकर अपने साथी दुर्गेश के साथ जाकर अनिल शाह , माइकल उर्फ राहुल सिंह ,टोनी उर्फ आनंद टोप्पो आदि को शामिल किया साथ ही रमजान ने ग्राम सिमरिया के एक अन्य साथी तुलसी भारती को भी रायगढ़ बुलाया ।सभी वहां से योजनाबद्ध तरीके से उड़ीसा से रायगढ़ पहुंचे जहां पर रायगढ़ में एक ही स्थान पर उड़ीसा से आए रुपेश ग्रुप दुर्गेश, रमजान उर्फ बबलू ,अनिल साय, टोनी उर्फ आनंद टोप्पो माइकल उर्फ राहुल सिंह एवं तुलसी भारती वहां पर पहुंचे जबकि चिल्हाटी से रमजान उर्फ बल्ला एवं अयूब योजनाबद्ध तरीके से योजना के मुताबिक रायगढ़ पहुंचे जहां पर सभी घटना में शामिल डकैत एवं योजना में शामिल दुर्गेश भी वहां उपस्थित रहा जहां पर इन लोगों ने पूरी घटना को कार्य करने का योजना बनाया बात योजना के मुताबिक सभी चिल्हाटी 12 तारीख को रात्रि पहुंचे जहां पर चिल्हाटी में रमजान उर्फ बबलू के निवास के बाहर रुक कर वहां खाना-पीना किए एवं रात्रि विश्राम कर अजय कुमार ध्रुव से बातचीत कर अगले दिन 13 तारीख को सुबह योजनाबद्ध तरीके से ग्राम चिल्हाटी से रवाना होकर 3 वाहनों में अलग-अलग 7 लोग घटना कार्य करने के लिए चिल्हाटी से रवाना होकर ग्राम दर्रीघाट पहुंचे जहां पर उन्होंने घटना को कारित कर ग्राम दर्रीघाट से होते हुए कोटमी सुनार रोते हुए वापस अलग-अलग स्थानों से भाग गए इस पूरे प्रकरण में पाया गया कि अजय कुमार ध्रुव जोकि अपने माता पिता का अपने साथ जेल गया था उसे इस बात का मलाल था और वह क्षुब्ध था कि उसे टाकेशर पाटले ने फसा दिया है और वह इसी कारण से पाटले से बदला लेने की नियत से उसने रमजान उर्फ बल्ला के साथ मिलकर टाकेशर पाटले के यहां डकैती करवाने का षड्यंत्र रचा ।इस संबंध में टाकेश्वर पाटले के संबंध में पूरी जानकारी उसने डकैती में शामिल लोगो की दी थी। अजय कुमार ध्रुव को जब पुलिस के द्वारा लाया गया तो पुलिस को अजय कुमार ध्रुव एवं रमजान उर्फ बल्ला के साथ आपस में बातचीत के रिकॉर्डिंग के प्रमुख अंश प्राप्त किये जो कि सूचित करते थे कि घटना बदला लेने की नीयत से अपने माता-पिता के जेल जाने से आक्रोशित होकर अजय कुमार ध्रुव ने इस घटना को करवाने हेतु डकैतों को शामिल कर डकैती डलवाई इससे यह साबित हो गया था कि इस प्रकरण में जिस तरीके से राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप लगाए जा रहे थे एवं प्रकरण को किसी दूसरी दिशा में ले जाने का प्रयास किया गया था लेकिन फिर भी पुलिस ने बिना किसी दबाव के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्रीमती पारुल माथुर के नेतृत्व में अपनी विवेचना की दिशा को न बदल कर विभिन्न स्रोतों से प्राप्त अहम जानकारी एवं विभिन्न टीमों से प्राप्त जानकारी को एकत्र कर आरोपी तक पहुंची एवं घटना को कार्य करने की योजना के प्रमुख कारणों को उनके द्वारा प्राप्त किया गया।

जनवरी माह में ही रमजान और आयुब को इस बात की पुख्ता जानकारी थी कि दर्रीघाट निवासी टाकेश्वर पाटले जो जमीन की खरीदी-बिक्री संबंधी काम करता है उसके पास बहुत सारा रूपया और सोना-चांदी मिल सकता है तथा वह घर मे कब रहता है और कब नही रहता है और घर में कौन-कौन से सदस्य रहते है इन सब की जानकारी स्थानिय होने के वजह से अजय ध्रुव ने कई बार रेकी किया था।
छोटू सिंह एवं आनन्द टोप्पो के निशानदेही पर डकैती के प्रकरण में शामिल अन्य सदस्यों अजय कुमार ध्रुव पिता अमर सिंह ग्राम लावर थाना मस्तुरी जिला बिलासपुर तथा दुर्गेश ध्रुव पिता विजय ध्रुव उम्र 28 साल साकिन गणेश नगर नयापार थाना सिरगिट्टी जिला बिलासपुर को धर-दबोचा गया जिन्होंने घटना को रमजान, आयुब एवं माइकल के साथ मिलकर कारित करना स्वीकर किया ।

गिरफ्तार आरोपी

1 आनंद टोप्पो ऊर्फ टोनी पिता सुशील टोप्पो उम्र 22 साकिन मॉल गोदाम बस्ती वार्ड नंबर 10 जिला सुंदरगढ़ उड़ीसा

2 छोटू सिंह पिता बबलू सिंह उम्र 23वर्ष साकीन बसंती कॉलोनी वार्ड नंबर 09 थाना उदित नगर जिला सुंदरगढ़

3 अजय कुमार ध्रुव पिता अमर सिंह ध्रुव उम्र 21 वर्ष सकीं लावर थाना मस्तुरी जिला बिलासपुर

4 दुर्गेश ध्रुव ऊर्फ रूपेश पिता विजय ध्रुव उम्र 28 वर्ष साकीन गणेशनगर नयापारा सिरगिट्टी जिला बिलासपुर

Post a Comment

और नया पुराने
NEWS WEB SERVICES