छत्तीसगढ़ से ब्यूरो रिपोर्ट रोशन कुमार सोनी

 ● रायगढ़ के खरसिया-भूपदेवपुर हाइवे पर मिली थी अज्ञात महिला का लाश....

● एसपी अभिषेक मीना के निर्देशन पर एसडीओपी खरसिया घटनास्थल पर लगाई कैम्प....
 
● मृतिका के हाथ में बने गोदना, रेल्वे टिकट व घटनास्थल पर मिले साक्ष्यों को जोड़ते हुए ओडिशा में  मृतिका के वारिशानों तक पहुंची पुलिस टीम....

● साक्ष्यों के आधार पर दूसरे ही दिन भूपदेवपुर, चौकी खरसिया, सायबर की संयुक्त टीम के हाथ आया आरोपी....

● बेलपहाड़ ओडिशा की महिला से भूपदेवपुर के चारभांठा में रहने वाले व्यक्ति से थे अंतरंग संबंध....

● महिला से अंतरंग रिस्ते, ब्लैकमेलिंग से परेशान होकर सुनियोजित तरीके से आरोपी दिया घटना को अंजाम....

● साक्ष्य मिटाने के मिले सबूत, आरोपी से हत्या में प्रयुक्त लोहे का कत्ता, मोटर सायकल की बरामदगी.....

        रायगढ़ । मामले का संक्षिप्त विवरण- दिनांक 14.01.2022 के देर शाम भूपदेवपुर पुलिस को सूचना मिली कि रायगढ़-खरसिया हाइवे के ग्राम चारभांठा दर्राडोली के पास एक अज्ञात महिला उम्र करीब 30-35 वर्ष का शव पड़ा है । सूचना पर तत्काल थाना प्रभारी भूपदेवपुर निरीक्षक अमित शुक्ला अपने स्टाफ के साथ मौके पर पहुंचे । पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक मीना के निर्देशन पर एडिशनल एसपी लखन पटले, एसडीओपी खरसिया निमिषा पांडेय, चौकी प्रभारी खरसिया उप निरीक्षक नंद किशोर गौतम, सायबर सेल, डॉग स्क्वॉड और फोरेंसिक टीम मौके पर पहुंचे । ग्राम चारभांठा का घनश्याम पटेल (प्रार्थी/रिपोर्टकर्ता) बताया कि गांव के भूनेश्वर पटेल के खेत के पास जहां पैरा रखा है वहां  एक 25-30 वर्ष की महिला पैरा के ऊपर निर्वस्त्र पडी थी, नजदीक जाकर देखे तो गले में कोई धारदार हथियार से गला को काटने का निशान दिखा एवं खून बहकर सूख गया है । शव से कुछ दुरी में रेल्वे टिकिट एवं देशी प्लेन शराब व गोवा अंग्रेजी शराब का खाली शीशी एवं पन्नी पडा है कुछ दूरी में सामान जलने का निशान दिख रहा है । थाना भूपदेवपुर में अज्ञात आरोपी पर अपराध क्रमांक 08/2022 धारा 302 IPC का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया  । 

       पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक मीना के दिशा निर्देशन पर घटना के बाद से एसडीओपी खरसिया थाना भूपदेवपुर, चौकी खरसिसया एवं साइबर सेल स्टाफ के साथ कैम्प कर घटना के हर पहलुओं पर बारीकी से जांच पड़ताल किया गया ।  शव के परीक्षण पर मृतिका के दाहिने हाथ में “अनूप कुमार” गोदना से लिखा था तथा रेल्वे के टिकट बेलपहाड़ का मिला  था । वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन पर तत्काल पुलिस की एक टीम बेलपहाड़ ओडिशा रवाना हुई गोदना पर लिखे अनूप कुमार नाम के व्यक्ति एवं मृतिका का फोटो दिखाकर वारिशानों की पतासाजी की  गई  जिसमें  मृतिका के बसंती भरा सागर पति स्व. अनूप भरा सागर उम्र 37 वर्ष निवासी प्रेमनगर वार्ड क्रमांक 28 चक्रधरनगर जिला रायगढ़ हाल मुकाम बेलपहाड़ वार्ड क्रमांक 07 जिला झारसुगुडा ओडिशा के होने की जानकारी स्पष्ट हुई, घटनास्थल पर मिले साक्ष्य, गवाहों एवं आसपास के सीसीटीवी फुटेज पर चारभांठा के फत्ते सिंह के साथ मृतिका को देखे जाने के सबूत मिले जिस आधार पर फत्ते सिंह को संदेह पर लेकर पूछताछ किया गया । पुलिस को काफी गुमराह करने के बाद आखिरकार उसने सच कबूला और अंतरंग रिस्ते से परेशान होकर बसंती भरा सागर की हत्या करना कबूल किया । 

           आरोपी फत्ते लाल पटेल उर्फ धना सिंह पटेल अपने मेमोरेंडम कथन में  पुलिस को बताया कि वर्ष 2017 से बेलपहाड़ गुमाडेरा टीकेएल कंपनी में मकान पेंटिंग का काम ठेकेदारी पर करता है । पेटिंग ठेकेदारी का काम करते समय बसंती भरा सागर निवासी बेलपहाड़ कंपनी में साफ सफाई का काम करती थी जिससे जान पहचान हुआ । इसी दरमियान बसंती बताई कि उसके पति का देहांत होने पर बच्चों को लेकर मायके में रहती है और बसंती मोबाइल से बातचीत करने लगी । करीब दो साल से दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ी जिसका फायदा उठाकर बसंती शादी करने को कहती और दबाव बनाकर मनमाने तरीके से रुपए मांगती थी । फत्ते सिंह बताया कि कई बार वह उसे ₹10000- ₹10000 दे चुका था , उसके पैसे मांगने और शादी करने का दबाव बनाने पर परेशान हो गया था । 11 जनवरी 2022 को बसंती इसे कॉल कर बताई की तबीयत खराब है, मैं रायगढ़ आ रही हूं इलाज करा देना बोली और दूसरे दिन 12 जनवरी 2022 को रायगढ़ आकर अपने रिश्तेदार के यहां रुकना बताई । 13 जनवरी 2022 के सुबह बसंती फत्ते सिंह को रायगढ़ बुलाई तो फत्ते सिंह रायगढ़ जाकर उसका प्राइवेट हास्पीटल में इलाज कराया और बसंती को घर वापस चले जाने के लिए बोला और फत्ते सिंह अपने घर चारभांठा आ गया । उसी शाम करीब 4:00 बजे बसंती फत्ते सिंह को मोबाइल पर कॉल कर बोली कि “रेलवे स्टेशन में हूं तुम स्टेशन आ जाओ नहीं तो बेलपहाड़ में रहने नहीं दूंगी बदनाम कर दूंगी” कहकर धमकी देने लगी । तब फत्ते सिंह बसंती की हत्या के इरादे से घर से एक प्लास्टिक के थैला में लोहे का कत्ता लेकर मोटरसाइकिल से रायगढ़ गया । रायगढ़ रेल्वे स्टेशन के पास बसंती मिली । बसंती और फत्ते सिंह दोनों शराब पीते थे , फत्ते सिंह रायगढ़ से शराब खरीदकर बसंती को मोटरसाइकिल में बिठाकर दर्रापाली हाईवे के पास ले गया जहां दोनों शराब पिए और इसी बीच बसंती के नशे का फायदा उठाकर लोहे के कत्ते से उसके गले को काटकर हत्या कर कत्ते को फत्ते सिंह पैरा के नीचे छिपा दिया और मृतिका के कपड़े वगैरह को पैरा में जलाकर साक्ष्य नष्ट करने किया । आरोपी फत्ते सिंह के मेमोरेंडम पर हत्या में प्रयुक्त लोहे का कत्ता और मोटरसाइकिल की जप्ती की गई है ।

गिरफ्तार आरोपी - फत्ते लाल पटेल उर्फ धना सिंह पटेल पिता दिलेश्वर पटेल उम्र 39 वर्ष निवासी चारभांठा थाना भूपदेवपुर जिला रायगढ़

      वरिष्ठ अधिकारियों के दिशा निर्देशन पर इस अंधे कत्ल में मृतिका की शिनाख्तगी, आरोपी पतासाजी, गिरफ्तारी में थाना प्रभारी भूपदेवपुर निरीक्षक अमित शुक्ला, चौकी प्रभारी खरसिया उनि नंदकिशोर गौतम, सायबर प्रभारी प्र.आर. राजेश पटेल, थाना भूपदेवपुर के सउनि डी.पी. चौहान, सउनि गंगाराम भगत, प्रधान आरक्षक जगेश्वर दिगस्कर, जगदीश नायक, आरक्षक मिनकेतन पटेल, विकास ठाकुर, सुमित उरांव गोवर्धन सिदार, सत्यवान लकड़ा,  गिरधारी खड़िया, चौकी खरसिया के आरक्षक  कीर्ति सिदार, राजेश राठौर, सायबर के प्रधान आरक्षक दुर्गेश सिंह, बृजलाल गुजर की अहम भूमिका रही है ।

Post a Comment

और नया पुराने
NEWS WEB SERVICES