छत्तीसगढ़ से ब्यूरो रिपोर्ट रोशन कुमार सोनी

लंबित प्रकरणों का समय-सीमा पर निराकरण व राजस्व वसूली के लक्ष्यों को पूर्ण करने के दिए निर्देश
-----------------------------------------------------
रायगढ़, 27 जनवरी 2022/ कलेक्टर श्री भीम सिंह ने आज कलेक्टोरेट सभाकक्ष में जिले के राजस्व अधिकारियों की मासिक समीक्षा बैठक ली। बैठक में कलेक्टर श्री सिंह ने राजस्व से जुड़े मामलों व योजनाओं के क्रियान्वयन की गहन समीक्षा की।
कलेक्टर श्री सिंह ने लोक सेवा गारंटी में सम्पूर्ण दस्तावेज पूर्ण होने पश्चात आवेदन लेने के निर्देश दिए, जिससे प्रकरणों का त्वरित निराकरण हो। नजूल पट्टों के नवीनीकरण एवं फ्री होल्ड वाले प्रकरण की जानकारी ली। उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि ऐसे प्रकरणों का प्राथमिकता से निराकरण किया जाए। उन्होंने व्यवस्थापन एवं भू-स्वामी हक के लक्ष्य तथा उपलब्धि पर चर्चा की तथा संबंधित अधिकारी को व्यवस्थापन पर आदेश की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री सिंह ने डायवर्सन पर पर्याप्त वसूली नहीं होने पर नाराजगी जताई। इस दौरान उन्होंने ई-कोर्ट संचालन की भी जानकारी ली। ई-नामांतरण, विवादित नामांतरण, सीमांकन से संबंधित प्रकरणों पर तहसीलवार जानकारी ली। इसके साथ ही उन्होंने सीमांकन के संबंध में निर्देश दिए कि कोई भी प्रकरण लंबित नहीं होने चाहिए  तथा अविवादित नामांतरण के प्रकरण एक वर्ष से अधिक लंबित न हो। साथ ही नामांतरण एवं बंटवारे के प्रकरणों का भी तेजी से निराकरण किया जाए। आरबीसी 6-4 से संबंधित प्रकरण पर कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कोई भी प्रकरण 6 माह से अधिक नहीं होना चाहिए। प्रकरण से प्रभावितों का निरीक्षण एवं गणना कर आर्थिक मांग प्रपत्र बनाया जाए। कलेक्टर श्री सिंह ने सड़क दुर्घटना, अज्ञात वाहन एक्सीडेंट से संबंधित प्रकरणों को समय-सीमा में निराकरण करने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री सिंह ने तहसीलों में पटवारियों की पदस्थापना संबंधी जानकारी ली। उन्होंने कोविड-19 से मृत व्यक्तियों के परिजनों को दी जानी वाली अनुग्रह सहायता राशि वितरण की भी समीक्षा की।
कलेक्टर श्री सिंह ने आदिवासी विकास विभाग से वनअधिकार पट्टा वितरण की समीक्षा की। सहायक आयुक्त आदिवासी विकास ने जानकारी देते हुए बताया कि पट्टा वितरण के लिए आवेदन मंगाये गए है। कलेक्टर श्री सिंह ने सहायक आयुक्त को निर्देश दिया कि फारेस्ट एवं रेवन्यू के आवेदनों की अलग प्रविष्ट करें तथा शेष बचे वनअधिकार पत्रों का वितरण शीघ्र किया जाए। इसके अलावा ग्राम पंचायत स्तर पर प्राप्त आवेदनों का वेरीफिकेशन पूरा कराया जाए।
बैठक में कलेक्टर श्री सिंह ने गोधन न्याय योजना पर समीक्षा करते हुए उन्होंने नवीन गौठानों की कन्वर्जन रेशियों की सुधार की दिशा में गंभीरता पूर्वक कार्य करने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि जिन गौठानों में गोबर खरीदी बेहतर नहीं है। ऐसे गौठानों में गोबर खरीदी को बढ़ाने एवं कन्वर्जन रेशियों को सुधार की दिशा में सभी अधिकारियों को कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिन गौठानों में शेड उपलब्ध नही है ऐसे गौठानों में शेड निर्माण का कार्य शीघ्र पूर्ण करें। जिससे वर्मी खाद कन्वर्जन में सुधार किया जा सके। कलेक्टर श्री सिंह ने गौठानों में पशुओं की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए। उन्होंने गोबर खरीदी, खाद निर्माण एवं ब्रिकी की मॉनिटरिंग के निर्देश भी दिए। कलेक्टर श्री सिंह ने वर्तमान में किए जा रहे धान खरीदी एवं बारदानों की उपलब्धता की समीक्षा की। खाद्य अधिकारी ने बताया कि वर्तमान में वितरित टोकन अनुसार बारदानों का पर्याप्त स्टॉक उपलब्ध है एवं समितियों में बारदाने की कमी होने पर तत्काल पूर्ति कर दिया जाएगा।  
बैठक में अपर कलेक्टर श्री आर.ए.कुरूवंशी, एसडीएम धरमजयगढ़ श्री संबित मिश्रा, सहायक कलेक्टर श्री प्रतीक जैन, संयुक्त कलेक्टर सुश्री अभिलाषा पैंकरा, समस्त डिप्टी कलेक्टर, एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार एवं राजस्व अधिकारी उपस्थित रहे।

Post a Comment

और नया पुराने
NEWS WEB SERVICES