छत्तीसगढ़ से ब्यूरो रिपोर्ट रोशन कुमार सोनी 

खरसिया- नगरवासी मंत्री पटेल के प्रति हुए कृतज्ञ

मंत्री उमेश पटेल के सिपहसालार युवा कांग्रेसी नेता सुनील शर्मा, पार्षद रिया श्रीवास्तव और रेलवे सलाहकार समिति के सदस्य गोपाल अग्रवाल के प्रयासों से बिलासपुर मंडल के रेल महाप्रबंधक ने 17 जनवरी को ओवरब्रिज की समस्या से त्रस्त खरसिया वासियों के लिए अंडर ब्रिज की सौगात देकर राहत प्रदान की है।
उल्लेखनीय होगा कि फरवरी 2021 में अंचल के प्रसिद्ध लोक कलाकार राघवेंद्र वैष्णव ने रेल महाप्रबंधक से खरसिया में अंडर ब्रिज की मांग की थी। वहीं युवा वरिष्ठ कांग्रेसी नेता सुनील शर्मा एवं सक्रिय पार्षद रिया श्रीवास्तव के द्वारा समय-समय पर इस मांग को बुलंद किया जा रहा था। साथ ही रेलवे सलाहकार समिति के जुझारू सदस्य गोपाल अग्रवाल की कुशल रणनीति एवं भरसक प्रयत्न से बिलासपुर मंडल के रेल महाप्रबंधक आलोक कुमार ने 17 जनवरी 2022 को अंडर ब्रिज निर्माण की सहमति प्रदान की है। वहीं यह निर्माण शीघ्र शुरू करवाने की बात कही है। यह अंडर ब्रिज खरसिया स्टेशन से झाराडीह मार्ग पर पिलर क्रमांक 620/33 के पास प्रस्तावित है।
▪️ नगर वासियों ने मंत्री पटेल का जताया आभार

खरसिया विधायक एवं उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल तथा अंडर ब्रिज निर्माण में सराहनीय भूमिका निभाने वालों के प्रति नगरवासी कृतज्ञ देखे जा रहे हैं। जाहिर है अंडर ब्रिज निर्माण से हर किसी को राहत मिलेगी। बता दें खरसिया नगर के बीचों-बीच रेलवे समपार स्थित है। नगर के एक ओर पूरा बाजार एवं बाल मंदिर से लेकर महाविद्यालय तक सभी प्रमुख विद्यालय हैं, शासकीय एवं सभी निजी अस्पताल भी स्थित हैं। वहीं दूसरी ओर सभी शासकीय कार्यालय एवं न्यायालय स्थित है। समीपस्थ ग्राम तेलीकोट, मदनपुर, ठुसेकेला राजीव नगर, नवापारा, सरवानी, बरगढ़ एवं बोतल्दा आदि लगभग 20 गांव से दैनिक मजदूरी के लिए हजारों लोगों का बाजार आना होता है। साथ ही नगर से सिर्फ 18 किलोमीटर की दूरी पर एसईसीएल छाल की कोयला खदान स्थित है, जहां से भी प्रतिदिन लोगों का आवागमन लगा रहता है।
ऐसे में प्रतिदिन हजारों लोगों को इस पार से उस पार जाने के लिए रेलवे फाटक से होकर गुजरना पड़ता है। वहीं अक्सर देर तक फाटक बंद होने के कारण एंबुलेंस तक को लंबा इंतजार करना पड़ता है। ऐसे में अंडर ब्रिज बन जाने से प्रतिदिन होने वाली बड़ी परेशानी से लोगों को निजात मिलेगी।

Post a Comment

और नया पुराने
NEWS WEB SERVICES