जिला ब्यूरो हृदेश कुमार

गुणी, हुनरमंद और ईश्वरवादी है गहोई समाज: आलोक चतुर्वेदी

गहोई दिवस के शुभारंभ पर विधायक ने किया समाज भवन का भूमिपूजन

 
न्यूज़ छतरपुर गहोई समाज में उपयोग वाले तीन अक्षरों के अनुसार मैंने इस समाज की परिभाषा निर्मित की है। ग से गुण, ह से हुनर और ई से ईश्वरवादी। गहोई समाज के लोग गुणी, संस्कारी हैं जो सभी को सम्मान देना जानते हैं, हुनरमंद हैं जो अपने बलबूते पर किसी भी शहर और देश की अर्थव्यवस्था संचालित करते हैं और जय गहोई के साथ जय गोपाल बोलकर यह सिद्ध करते हैं कि वे भरपूर ईश्वरवादी हैं। सभी समाजों को इस समाज से प्रेरणा लेकर इन गुणों को आत्मसात करना चाहिए ताकि हमारा शहर, प्रदेश एवं देश संस्कारी और विकसित हो। उक्त उद्गार छतरपुर के कांग्रेस विधायक आलोक चतुर्वेदी पज्जन भैया ने रविवार को गहोई दिवस के शुभारंभ अवसर पर व्यक्त किए। 
सरानी दरवाजा क्षेत्र के गहोई धाम में विगत वर्षों की तरह इस वर्ष भी कोविड गाइड लाइन का पालन करते हुए गहोई समाज के द्वारा गहोई दिवस समारोह आयोजित किया गया। इस अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रहे छतरपुर विधायक आलोक चतुर्वेदी ने अपनी निधि से पांच लाख रूपए देकर यहां समाज भवन का निर्माण कार्य शुरू कराया। समाज के वरिष्ठजनों के बीच भूमिपूजन करने के उपरांत विधायक आलोक चतुर्वेदी ने कहा कि विधायकनिधि पर सभी समाजों का हक है वे पांच लाख रूपए इस वर्ष दे रहे हैं ताकि निर्माण कार्य शुरू हो। पांच लाख रूपए समाज के लोग एकत्रित करें और इसके बाद फिर से वे पांच लाख रूपए देंगे ताकि एक भव्य समाज भवन का निर्माण हो सके। उन्होंने कहा कि समाज भवन समाज के लोगों के लिए एक साथ बैठने की सुविधा उपलब्ध कराता है इससे आपसी प्रेम और संवाद बढ़ता है। इस अवसर पर समाज के होनहार बच्चों ने कई रंगारंग प्रस्तुतियां दीं। समाज के द्वारा दो निर्धन परिवार की बेटियों के विवाह भी कराए गए। कार्यक्रम में समाज के अध्यक्ष प्रेम नारायण रूसिया, राजेंद्र नीखरा, राधिका पंसारी, राजेंद्र खरिया, श्रीराम पहारिया, विनोद सरावगी, अशोक कुचया, एसडी कुचया, रवि नीखरा, राजेन्द्र रूसिया, ओमप्रकाश पिपरसानियां, रश्मि खरिया, कोमल टिकरिया, हरिश्चंद्र रावत, केके ब्रजपुरिया, प्रभाकर टिकरिया, अनिल बरसैयां सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

Post a Comment

और नया पुराने
NEWS WEB SERVICES